Home Featured 1934 से यहाँ बसा है ‘नींबुओं का शहर’

1934 से यहाँ बसा है ‘नींबुओं का शहर’

अपने नींबू उत्सव के लिए मशहूर नींबुओं का शहर

by Admin

वेव डेस्क :- दुनिया में तरह-तरह की देश है, जहां अलग-अलग सभ्यता-संस्कृति वाले अनेक राज्य है | पर यहां हम आपको एक ऐसे शहर के बारे में बताने जा रहे हैं, जो नींबू के शहर के नाम से पहचाना जाता है | क्या है इस शहर की खासियत है और क्यों कहलाता है यह नीबुओं का शहर, आइए जानते हैं इस खबर में…

फ्रांस के दक्षिण में एक छोटा सा शहर है मेंटोन, करीब 30 हजार की आबादी वाले इस कस्बे की खटास दुनियाभर में मशहूर है, अपने नींबू उत्सव के लिए इसे जाना जाता है, और इसे खटाई का शहर भी कहा जाता है | यंहा जब नीबू उतस्व मनाया जाता है तो इस मौके पर पूरा शहर नींबू और उस जैसे दूसरे खट्टे रसदार फलों से लद जाता है, हर चीज नींबू-नींबू हो जाती है |

जाने कब से शुरू हुआ उत्सव

नींबुओं का यह उत्सव 1934 में नीस कार्निवाल का मुकाबला करने के मकसद से शुरू हुआ था, नीस शहर का कार्निवाल मशहूर हो रहा था और मेंटोन के लोगों को लगा कि उन्हें भी कुछ करना चाहिए, तब उन्होंने ही है अनोखा तरीका चुना और पूरे शहर भर को नीबुओं से भरकर नींबू उत्सव की शुरुआत की | पहला उत्सव एक प्रदर्शनी के रूप में आयोजित हुआ था, स्थानीय होटल मालिकों ने होटल मेंटोन रिविएरा गार्डन्स में फूलों और खट्टे फलों की प्रदर्शनी लगाई थी |

यह भी पढ़ें…. 👉 जाने Computer? की स्पीड बढ़ाने का तरीका – unique 24 News (unique24cg.com)

पहली प्रदर्शनी का जिम्मा फ्रांस्वा फेरी के कंधो पर था, उन्होंने नींबुओं से विशाल मूर्तियां बनाईं जिनकी खूब तारीफ हुई थी और बस, सिलसिला शुरू हो गया, तब से हर साल नींबुओं, संतरों और मौसमियों की विशालकाय मूर्तियां बनाई जाती हैं | बताया जाता हैं कि हर साल 400 से ज्यादा लोग मिलकर 30-30 फुट ऊंचीं मूर्तियां बनाते हैं जिनके लिए लगभग डेढ़ सौ टन नींबू और संतरे प्रयोग होते हैं | इस उत्सव को देखने करीब दो लाख लोग पहुंचते हैं, इस दौरान हर होटल भरा रहता है और लोगों को दूर जाकर भी रहना पड़ता है | लोग महीनों पहले बुकिंग शुरू कर देते हैं |

फेस्टिवल का मुख्य आकर्षण परेड होती हैं, जिनमें नाच-गाना, कलाबाजियां और करतब होते हैं और नींबुओं से बनीं महाकाय झांकियां गुजरती हैं | मेंतों और आसपास के इलाके में करीब 100 तरह के फल होते हैं लेकिन अपने नींबुओं पर इस इलाके के लोगों को खास गर्व है | यहां हर साल 150 मीट्रिक टन नींबू पैदा होते हैं, और कहते हैं कि पेड़ से सीधा तोड़कर खाये नींबू का जैसा स्वाद यहां आता है, वैसा कहीं नहीं है | अपने इन्हीं विशेषताओं की वजह से यह शहर विश्व में नीबुओं के शहर के रूप में प्रसिद्ध होता जा रहा है | 

कला धर्म एवं संस्कृति सहित देश दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए,

हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें 👇

Unique 24 CG – YouTube

You may also like

1 comment

Nolan Deveny 18/06/2022 - 3:09 am

I’ve been absent for some time, but now I remember why I used to love this blog. Thank you, I will try and check back more often. How frequently you update your web site?

Reply

Leave a Comment