Home Celebrity राणा दंपति की गिरफ्तारी-एक साथ तीन निशाने

राणा दंपति की गिरफ्तारी-एक साथ तीन निशाने

by Admin

महाराष्ट्र :- महाराष्ट्र के राजनीतिक गलियारे में सांसद नवनीत राणा और उनके विधायक पति रवि राणा की गिरफ्तारी की चर्चा जोरों पर है, राजनीतिक विशेषज्ञों का मानना है की राणा दंपत्ति की गिरफ्तारी से उद्धव ठाकरे सरकार ने एक तीर से तीन निशाने साध लिए हैं | निश्चित तौर पर महाराष्ट्र की गठबंधन सरकार का ये एक्शन, बीजेपी को चेतावनी देने के मकसद से हुआ होगा और सहयोगी दलों को भरोसा दिलाने के लिए भी, लेकिन हर एक्शन के रिएक्शन की तरह ये एक बेहद खतरनाक राजनीति की तरफ इशारा करता है |

इस गिरफ्तारी से ये सवाल भी उठता है की नवनीत राणा और कंगना रनौत में उद्धव ठाकरे सरकार ने भेदभाव क्यों किया?

नवनीत राणा तो सिर्फ मातोश्री के बाहर हनुमान चालीसा का जाप करने की कह रही थीं, कंगना रनौत की तरह शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे को लेकर ‘तू-तड़ाक’ भी नहीं किया था | ऊपर से शिवसैनिकों के उनके घर के बाहर धावा बोल देने के बाद तो जैसे सरेंडर ही कर दिया था, घर में बैठे बैठे ही बोल दिया था कि काम पूरा हो गया है | उनका कहना था कि मातोश्री के बाहर लोग हनुमान चालीसा पढ़ रहे हैं और उनका मकसद पूरा हो गया है |

फिर भी नवनीत राणा और उनके पति को गिरफ्तार किये जाने से साफ है कि ये फैसला सोच समझ कर किया गया है, बगैर मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की मंजूरी के ये संभव भी नहीं लगता है | ठीक वैसे ही जैसे की केंद्रीय मंत्री नारायण राणे और टीवी एंकर अर्नब गोस्वामी को मुंबई पुलिस ने गिरफ्तार किया था |

यह भी पढ़ें…. 👉 अमेरिका ने बनाई है भारत की ऐसी रिपोर्ट – Unique 24 News (unique24cg.com)

खास मकसद से हुई गिरफ्तारी

ऐसे हर एक्शन के पीछे कोई न कोई राजनीतिक मकसद होता है,और राणा दंपति की घर से उठा कर जेल भेज दिये जाने के पीछे भी ऐसा ही प्रतीत होता है | मामले को मजबूत बनाने के लिए अन्य आरोपों के साथ साथ सेडिशन का चार्ज भी लगाया गया है, और यह जरूरी भी नहीं है कि मुंबई पुलिस कोर्ट में ये साबित भी कर पाये, लेकिन ऐसा करने में लंबा वक्त तो गुजर ही जाएगा और तब तक राणा दंपति को जेल में रहना पड़ेगा | राजनितिक विशेषज्ञों का मानना है की यही उद्धव ठाकरे सरकार की मंशा है |

क्या राज ठाकरे को दिया जा रहा है मैसेज ?

क्या ये सब महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना प्रमुख राज ठाकरे को खास मैसेज देने के लिए किया गया हो सकता है? राज ठाकरे ने 3 मई की डेडलाइन दे रखी है, लेकिन सरकारी दबाव में मस्जिदों में लगे लाउडस्पीकर या तो बंद करा दिये गये हैं, या फिर उनकी आवाज धीमी हो गयी है | ऐसे में जब लग रहा था कि राज ठाकरे की धमकी के आगे उद्धव ठाकरे सरकार झुक गयी है, तो नवनीत राणा ने भी लगता है बहती गंगा में हाथ धो लेने की कोशिश की होगी, लेकिन दांव उलटा पड़ गया और आनन फानन में मुंबई पुलिस ने घर से उठाकर जेल पहुंचा दिया है |

हमें फेसबुक पर लाइक करें…..👉 (9) Unique 24 CG | Facebook

नवनीत राणा और रवि राणा के खिलाफ आईपीसी की धारा 153 A और राजद्रोह की धारा 124 A सहित कई धाराओं के साथ केस दर्ज किया गया है, साथ ही एक और एफआईआर भी आईपीसी की धारा 353 के तहत भी दर्ज की गयी है, और यही वजह है कि कोर्ट ने राणा दंपति को 14 दिन के लिए नियाईक हिरासत में जेल भेज दिया है |
अब देखना यह है की नवनीत राणा और उनके पति की गिरफ्तारी के बाद महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना प्रमुख राज ठाकरे क्या रणनीति अख्तियार करते हैं?

कला धर्म एवं संस्कृति सहित देश दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए,

हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें 👇

Unique 24 CG – YouTube

You may also like

Leave a Comment