Home छत्तीसगढ़ फोर्स के पहुंचने के पहले नक्सली चकमा देकर भागे, बढ़ाई सर्चिंग

फोर्स के पहुंचने के पहले नक्सली चकमा देकर भागे, बढ़ाई सर्चिंग

by Wev Desk

धमतरी। गरियाबंद और उड़ीसा की सीमा में हुए नक्सली मुठभेड़ के बाद से वनांचल में संघन सर्चिंग अभियान चलाया जा रहा हैं। चमेदा और एकावारी के जंगल में नक्सलियों की मूव्हमेंट की सूचना के बाद फोर्स ने दबिश दी, लेकिन फोर्स के पहुंचने के पहले ही चकमा देकर नक्सली उड़ीसा की ओर भाग निकले। एसपी प्रशांत ठाकुर के मार्गदर्शन में नक्सल प्रभावित गांवों में पैनी नजर रखकर सघन सर्चिंग अभियान चलाया जा रहा हैं। सूत्रों के मुताबिक कुछ दिन पहले ही चमेदा और एकावारी के ऊपरी इलाके में नक्सलियों का लोकेशन मिला था। यहां दर्जनभर से ज्यादा नक्सलियों ने तीन दिनों तक कैम्प किया था।

मुखबिर से इसकी सूचना मिलते ही फोर्स   को आपरेशन के लिए रवाना किया, लेकिन जब तक फोर्स लोकेशन में पहुंचते, इसके पहले ही नक्सलियों को भनक लग गई और वे उड़ीसा की ओर भाग निकले। इसके बाद से गरियाबंद और उड़ीसा की सीमावर्ती क्षेत्रों में पैनी नजर रखी जा रही हैं। गौरतलब है कि बारिश के सीजन में नक्सलियों को जंगल में मलेरिया का काफी डर सता रहा है, जिसके चलते सुरक्षित शरणगाह के रूप में वे आसपास गांवों की ओर रूख करने लगे हैं। शरण लेने के नीयत से वे चमेदा, एकावरी के जंगल में एकत्रित हुए थे, लेकिन फोर्स ने उनके मंसूबे पर पानी फेर दिया।

डीएसपी नक्सल आरके मिश्रा ने बताया कि कुछ दिन पहले चमेदा-एकावरी के जंगल में नक्सली आहट की सूचना मिली थी। पूरी तैयारी के साथ फोर्स ने वहां दबिश दी, लेकिन इसके पहले ही नक्सली भाग निकले। लाल आतंक के खात्मे के लिए विशेष आपरेशन चलाया जा रहा है।

You may also like

Leave a Comment