Home Featured EOW की छापेमारी में करोड़पति निकला शिक्षक

EOW की छापेमारी में करोड़पति निकला शिक्षक

by Wev Desk

एमपी डेस्क :- मध्यप्रदेश का एक संविदा शिक्षक जिसका वेतन 3500 रुपए महीना था, वह 27 कॉलेजों का मालिक बन गया है, EOW की छापेमारी में इस शिक्षक का खुलासा हुआ है |

27 कॉलेजों समेत करोड़ों की संपत्ति का मालिक मध्यप्रदेश का एक संविदा शिक्षक अचानक से चर्चा में आ गया है | एक संविदा शिक्षक की भला कितनी तनख्वाह हो सकती है? लेकिन ये शिक्षक 27 कॉलेजों का मालिक पाया गया है, EOW की छापेमारी में इस शिक्षक का असली रंग जब सामने आया तो उसने सबको हैरान कर दिया |

हमें फेसबुक पर लाइक करें…..👉 (9) Unique 24 CG | Facebook

मध्यप्रदेश के ग्वालियर का एक संविदा शिक्षक प्रशांत सिंह परमार ने साल 2006 में संविदा शिक्षक की नौकरी ज्वाइन की थी, उस समय इनका वेतन 3500 रुपए महीना था | अब मात्र 15 साल में प्रशांत 27 कॉलेजों का मालिक बन गए हैं, EOW ने प्रशांत के एक दर्जन से ज्यादा ठिकानों पर छापेमारी करने के बाद सामने जो सच्चाई आई उसने सभी को चौंका दिया है | राजस्थान के रहने वाले प्रशांत ने साल 2006 में मात्र 3500 रुपये महीने पर संविदा शिक्षक के रूप में नौकरी शुरू की थी लेकिन आज जब EOW ने जांच की तो पाया कि प्रशांत 27 कॉलेज, 4 दफ्तर, 2 मकान, जमीन, बैंक एकाउंट और लॉकर्स का मालिक है |

संविदा शिक्षक प्रशांत परमार पर रेड मारने के बाद EOW के हाथ बड़ी सफलता लगी है, EOW को प्रशांत की आय से अधिक संपत्ति के बारे में एक खुफिया जानकारी मिली थी | जिसके बाद EOW ने इस मामले की जांच की और प्रशांत के सत्यम टावर स्तिथ घर के साथ-साथ कई ठिकानों पर छापेमारी कर दी, जिसके बाद प्रशांत के पास से EOW को कई महत्वपूर्ण दस्तावेज मिले हैं | आपको बता दें कि कभी 3500 रुपये महीने से अपने करियर की शुरुआत करने वाला प्रशांत परमार आज 24 D.ed, 3 B.ed कॉलेज, और 3 नर्सिंग कॉलेज सहित 27 कॉलेजों का मालिक है | इसके आलाव ग्वालियर में प्रशांत के 2 मकान और चार दफ्तर होने की जानकारी के साथ जमींन, बैंक एकाउंट्स और लॉकर भी हैं |

यह भी पढ़ें…. 👉 कोरोना की तीसरी लहर से मिल रही है राहत – unique 24 News (unique24cg.com)

रिपोर्ट्स के मुताबिक राजस्थान के बाड़ी के रहने वाले प्रशांत का नेटवर्क झारखंड तक फैला हुआ है, प्रशांत के ठिकानों पर छापेमारी करने के दौरान EOW को कई सरकारी दफ्तरों और अधिकारियों की स्टैम्प सील मिली है | सम्भवना जताई जा रही है कि आरोपी सहायक शिक्षक प्रशांत परमार इन फर्जी स्टाम्प सील के जरिये अपने काला बाजारी का जाल और बड़ा कर रहा था | EOW के अधिकारियों की मानें तो पूरी जांच के बाद 10 करोड़ से अधिक की सम्पत्ति का खुलासा हो सकता है | जांच के दौरान यह जानकारी सामने आई है कि प्रशांत राजनीतिक गलियारे में प्रवेश करने की तैयारी में था, वह अगले साल राजस्थान में होने वाले विधानसभा चुनाव लड़ने का मन बना रहा था | पर EOW ने उसके मंसूबों पर पानी फेर दिया |

कला धर्म एवं संस्कृति सहित देश दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए,

हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें 👇

Unique 24 CG – YouTube

You may also like

2 comments

Admin 29/03/2022 - 7:35 pm

no

Reply
Admin 12/04/2022 - 8:33 am

i well contet you soon

Reply

Leave a Comment