Home धर्म / राशिफल आज है मातृ नवमी श्राद्ध,जानें खास बातें

आज है मातृ नवमी श्राद्ध,जानें खास बातें

नवमी श्राद्ध आज, नोट कर लें श्राद्ध- विधि और सामग्री की पूरी लिस्ट

by Unique Pr Desk

पितृ पक्ष मातृ नवमी का श्राद्ध 19 सितंबर 2022 को किया जाएगा. इस दिन विशेष तौर पर जिनकी मां की मृत्यु हो गई हो उनती आत्मा की शांति के लिए तर्पण, पिंडदान किए जाते हैं. वैसे तो मृत्यु तिथि पर मृत परिजन का श्राद्ध करने का विधान है लेकिन इस दिन जिन महिलाओं का देहांत सुहागिन के रूप में हुआ हो, उनका श्राद्ध मातृ नवमी पर करना उत्तम होता है. मान्यता है इससे परिवार में सभी दिवंगत महिला सदस्यों (बेटी, बहु, मां, दादी) की आत्मा प्रसन्न होती हैं.

यह भी पढ़े- https://unique24cg.com/chief-minister-made-12-big-announcements/

उपाय- 1
मातृ नवमी तिथि पर सुहागिन ब्राह्मण स्त्री को घर पर भोजन के लिए आमंत्रित करें। श्राद्ध की विधि पूरी होने के बाद उस महिला को उसकी रूचि के अनुसार भोजन करवाएं। इसके बाद महिला को सुहाग की सामग्री जैसे कुंकुम, टिकी, मेहंदी के साथ लाल वस्त्रों का दान करें। साथ ही दक्षिणा यानी कुछ पैसे भी अवश्य दें। 

हमें instagram पर फ़ॉलो करें…..👉 unique24cg.com (@unique24cg) • Instagram photos and videos

उपाय-2
अगर घर पर को सुहागिन ब्राह्मण महिला न आए तो पुत्री या बहन को भी उसके स्थान पर आमंत्रित करें और उसे सुहाग की सामग्री भेंट करें। ऐसा भी अगर न हो पाए तो घर आस-पास रहने वाली किसी सुहागिन ब्राह्मण महिला को कच्ची भोजन सामग्री जिसमें तेल, घी, दाल, चावल, आदि चीजें शामिल हों, देकर आएं। साथ ही सुहाग की सामग्री भी भेंट करें।

उपाय- 3 
अगर किसी कारणवश आप विधि-विधान ससे श्राद्ध कर पाने में असमर्थ हैं तो नवमी तिथि पर दोपहर 12 बजे से पहले जलते हुए कंडे (उपले) पर पर घी-गुड़ की आहुति दें और बोलें- ऊं मातृ देवताभ्यो नम:। ऐसा 5 बार करें। इसके बाद हाथ में जल लेकर अंगूठे के माध्यम से जमीन पर छोड़े दें और मृतक की आत्मा की शांति के लिए भगवान से प्रार्थना करें।

हमें ट्विटर पर फ़ॉलो करें…..👉 Unique 24 CG (@Unique24CG1) / Twitter

उपाय-4
संभव हो तो इस दिन गरीब और जरूरतमंद लोगों को भोजन करवाएं। साथ ही महिलाओं को कुछ वस्त्र आदि का भी दान करें। इस दिन सुबह किसी नदी या तालाब में स्नान करें और सूर्यदेवता को अर्घ्य देते हुए मृत आत्माओं की शांति के लिए प्रार्थना करें।

उपाय-5
श्राद्ध की नवमी तिथि पर परिवार की बुजुर्ग महिलाओं के पैर चूकर आशीर्वाद लें और उन्हें अपनी इच्छा के अनुसार कुछ उपहार भेंट करें। साथ ही इस दिन विवाहित बहन और बेटी को घर पर सपरिवार भोजन के लिए आमंत्रित करें और उन्हें भी वस्त्र आदि देकर ससम्मान विदा करें।  

देश दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए,

हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें 👇

Unique 24 CG – YouTube

You may also like