Home देश दुनियाँ क्यों मनाते हैं विश्व साक्षरता दिवस? जानें

क्यों मनाते हैं विश्व साक्षरता दिवस? जानें

8 सितंबर को क्यों मनाते हैं अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस?

by Unique Pr Desk

हर साल 8 सितंबर को विश्व साक्षरता दिवस का मनाया था. साक्षरता किसी भी देश के विकास के लिए बहुत जरूरी है. देश के जितने ज्यादा नागरिक साक्षर होंगे, देश उतनी ही उन्नति कर सकता है. साक्षरता के इसी महत्व के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए हर साल अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस मनाया जाता है. हमारे देश भारत में भी यह दिन खास तरीके से मनाया जाता है. भारत की बात करें तो यहां सर्व शिक्षा अभियान के जरिए जन-जन को साक्षर बनाने का काम चल रहा है.

यह भी पढ़े-https://unique24cg.com/women-should-eat-these-3-things-daily/

क्या है साक्षरता का मतलब?

आज हम आपको यह बता रहे है की आखिर साक्षरताहै क्या? इस शब्द का मतलब क्या है यह शब्द साक्षर से बना है, जिसका अर्थ पढ़ना और लिखना होता है. इस दिन को मनाने के पीछे का उद्देश्य यह है कि दुनिया के हर तरह के वर्ग, देश, समाज अपने-अपनो लोगों की शिक्षा पर जोर देता है और उन्हें जागरुक करता हैं पढ़ने के लिए. ताकि एक अच्छा समाज का निर्माण हो सके.

हमें instagram पर फ़ॉलो करें…..👉 unique24cg.com (@unique24cg) • Instagram photos and videos

अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस का इतिहास

सबसे पहले अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस का विचार 1965 में निरक्षरता को खत्म करने के लिए ईरान द्वारा आयोजित विश्व शिक्षा मंत्रियों के सम्मेलन के दौरान प्रस्तावित किया गया था. इस सम्मेलन के अलगे साल, यूनेस्को ने पहल की और 8 सितंबर को अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस के रूप में स्थापित किया, जिसका मुख्य लक्ष्य “अंतर्राष्ट्रीय समुदाय को व्यक्तियों, समुदायों और समाजों के लिए साक्षरता के महत्व की याद दिलाने, और अधिक साक्षर समाजों की दिशा में गहन प्रयासों की जरूरत पर जोर देना है.’ वर्ल्ड कम्युनिटी ने एक साल बाद पहले अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस में भाग लेकर निरक्षरता को मिटाने का लक्ष्य रखा. तभी से हर साल 08 सितंबर को इंटरनेशनल लिटरेसी डे मनाने की शुरुआत हुई थी.

हमें Facebook पर फ़ॉलो करें…..👉 Unique 24 CG | Facebook

विश्व साक्षरता दिवस का महत्व 

लोगो को साक्षर बनाने सामाजिक और मानव विकास के अपने अधिकारों को जानने की आवश्यकता के बारे में जागरूक करने के लिए यह दिन मनाया जाता है. साक्षरता न केवल लोगों को बेहतर जीवन जीने में मदद करती है बल्कि और भी बाते सिखाती है जैसे की ग़रीबी उन्मूलन, जनसंख्या को नियंत्रित करने, बाल मृत्यु दर को कम करना आदि. यह दिन लोगों को अच्छी शिक्षा के लिए प्रोत्साहित करने के लिए मनाया जाता है. यूनेस्को इस दिन लोगों को जागरूक करने के लिए स्कूलों, कॉलेजों और गांवों में कई कार्यक्रम आयोजित करता है. मानव विकास और समाज के लिए उनके अधिकारों को जानने और साक्षरता की ओर मानव चेतना को बढ़ावा देने के लिए विश्व साक्षरता दिवस मनाया जाता है. एक रिपोर्ट के मुताबिक, COVID-19 महामारी के कारण 24 मिलियन से अधिक छात्र कभी स्कूल नहीं लौटे, जिनमें से 11 मिलियन लड़कियां हैं. इसी परिस्थिति को बदलने के लिए साक्षरता दिवस मनाने का महत्व बढ़ जाता है.

देश दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए,

हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें 👇

Unique 24 CG – YouTube

You may also like

Leave a Comment