Do you know-आखिर क्यों गोल-गोल होते हैं, टेलीफोन के तार?

Do you know-आखिर क्यों गोल-गोल होते हैं, टेलीफोन के तार?

वेब डेस्क :- क्या आप जानते हैं आखिर सीधा क्यों नहीं होता टेलीफोन का तार ?टेलीफोन के तारों का काम भी वही है, जो बाकी अन्य तारों का होता है, बिजली सप्लाई करना, तो फिर उन्हें अन्य तारों की तरह सीधा क्यों नहीं बनाया जाता? टेलीफोन्स के तार कर्ल करने के पीछे एक बड़ा कारण है, जिसके बारे में शायद ही आप जानते होंगे. चलिए जानते हैं इस खबर में……

आखिर सीधा क्यों नहीं होता टेलीफोन का तार? गोल-गोल होने के पीछे ये है बड़ा कारण

यह भी पढ़ें….Government vehicles-स्टार्स का क्या मतलब है? -unique 24 news (unique24cg.com)

गोल तारों का इस्तेमाल सिर्फ टेलीफोन में ही नहीं, बल्कि और भी कई इंडस्ट्री में होता है | सालों से कॉइल तारों का इस्तेमाल लोग कर रहे हैं | इन तारों को आमतौर पर टेलीफोन्स में ही देखा जाता है | कॉइल तार केवल लैंडलाइन फोन के लिए नहीं हैं. उनके काम करने का तरीका ऐसा है कि वो कई तरह की अलग-अलग इंडस्ट्रीज में भी उपयोग में आते हैं | कई अन्य प्रकार के तारों के विपरीत, कॉइल्ड तारों का डिज़ाइन ऐसा होता है कि ये ज्यादा सुरक्षित होते हैं |

इनमें सुरक्षा के लिए तारों को प्लास्टिक इन्सुलेशन में कोटिंग करने की सावधानीपूर्वक प्रक्रिया शामिल है. फिर उन तारों को एक विशेष प्लास्टिक में ढक दिया जाता है जिसे स्प्रिंग या कॉइल में बनाया जा सकता है | इस बिंदु पर वांछित परिणाम प्राप्त करने के लिए केबल को कॉइल किया जाता है, और विभिन्न तरीकों से ताप उपचार किया जाता है | विशेष प्रक्रिया के कारण जिसके द्वारा डोरियों को कॉइल किया जाता है, इससे तार आवश्यकतानुसार खिंच सकते हैं, और बिना अंदर रखे तारों पर अनावश्यक घिसाव भी नहीं होता |

आखिर फोन में ही क्यों इस्तेमाल होते हैं ये कॉइल वाले तार

अक्सर टेलीफोन्स पर बात करते हुए लोग उसके रिसीवर को फोन से दूर खींच ले जाते हैं | कॉइल तार ज्यादा फ्लेक्सिबल होते हैं, इस वजह से ये आसानी से दूर तक खिंच जाते हैं | इसके अलावा जब रिसीवर को दोबारा फोन पर रखा जाता है तो ये तार फिर से अपना ओरिजनल शेप ले लेते हैं | इस तरह ये जगह भी कम उपयोग करते हैं | अगर इन कॉइल तारों के स्थान पर पतले तारों का इस्तेमाल किया जाता, तो उतने लंबे तार फोन के पास फैले रहते और उन्हें समेटना मुश्किल होता है |
आपको बता दें की कॉइल तार मुड़कर अपनी जगह पर चले जाते हैं, वहीँ सीधे तारों में गांठ पड़ने या फिर टूट जाने का खतरा ज्यादा होता है | इसलिए कॉइल तारों को इस्तेमाल इंटरनेट सिग्नल, डाटा ट्रांसफर में भी होता है | ये तार साधारण तारों की अपेक्षा ज्यदा कारगर साबित होते हैं |

देश दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए,

हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

Unique 24 Bharat – YouTube

Tips, Tricks & Techniques ज्ञान – विज्ञान और तकनिकी