देश में हुआ बड़ा साइबर हमला CCTNS पोर्टल हुआ बंद- देखें वीडियो में

देश में हुआ बड़ा साइबर हमला CCTNS पोर्टल हुआ बंद- देखें वीडियो में

वेब डेस्क :- पूरे विश्व में इस समय साइबर अपराध का जाल फैला हुआ है,अपराधी रोज नए-नए तरीकों से लोगों को नुकसान पहुंचा रहे हैं | ऐसे में भारत की बात की जाए तो यहां साइबर अपराध की बाढ़ सी आई हुई है | गृह मंत्रालय का अपराध नियंत्रण एवं रिपोर्टिंग पोर्टल CCTNS इस समय साइबर अपराधियों के कब्जे में है | इस पोर्टल पर आधे घंटे में लगभग 17 लाख बार अटैक किया गया है | इसके बाद समाचार लिखे जाने तक नियंत्रण और रिर्पोटिंग पोर्टल CCTNS फिलहाल बंद पड़ा हुआ है |

अटैकर्स ने इस अपराध के लिए जिन पेलोड का इस्तेमाल किया है उसे अलग-अलग विदेशी भाषाओं में कोड किया है, जिनमें मुख्यतः रशियन,कजाकि,अरबी फ़ारसी,तुर्की और अफ़्रीकी भाषाओँ का इस्तमाल किया गया है | ताकि इसे आसानी से डिकोड ना किया जा सके |

यह भी पढ़ें….5 तरीके स्मार्टफोन Hack होने से बचने के  – unique 24 news (unique24cg.com)

आवश्यकता है हमें सतर्क रहने की
स्पैम फोन कालों को अनदेखा करें अपने बैंक खातों पर उचित नियंत्रण रखें,ऑफर के साथ भेजे जा रहे अनवांटेड वेबसाइट लिंक को भी अनदेखा करें | लोन-ऑफर के नाम पर, क्रेडिट कार्ड के नाम पर आने वाले कॉल को अनदेखा करें | वित्तीय आवश्यकता होने पर अपने बैंक से संपर्क करें कभी ऑनलाइन किसी प्रकार का लोन लेने से बचें |

यहां समझे कि साइबर अपराधी छोटे और बड़े स्तर पर किस प्रकार के अपराधों को अंजाम दे सकते हैं
अगर हम बड़े अपराधों की बात करें तो साइबर अपराधी चाहे तो देश के सिग्नल सिस्टम को हैक कर सकते हैं, जिससे बड़ी रेल और हवाई दुर्घटना हो सकती है | पावर ग्रिड पर हमला कर सकते हैं | न्यूक्लिअर सयंत्रों पर हमला हो सकता है, जिससे भारी जान माल की हानि हो सकती है | बैंकिंग सिस्टम पर अटैक कर सकते हैं, और खातों से पैसे चुरा सकते हैं | हवाई यात्राओं को प्रभावित कर सकते हैं, किसी भी प्रकार की ऑनलाइन बुकिंग को प्रभावित कर सकते हैं | इसी प्रकार छोटे स्तर पर जो अपराधी हैं वह लोगों को फोन कॉल के जरिए उनके निजी जानकारी चुराकर उसका दुरूपयोग कर सकते हैं |

यह समझिए कि आपकी किन डिजिटल चीजों पर साइबर अटैक हो सकता है
इनमें सबसे पहले है आपका फास्ट ट्रैक कार्ड यह भी साइबर अपराधियों की पहली पसंद बनता जा रहा है | वहीँ आप ऑनलाइन पेमेंट करने लिए जिन माध्यमों का इस्तमाल करते हैं जैसे लेज़ीपे, पेटीएम, जीपे, फोनपे का इस्तेमाल करते हैं, यह भी सुरक्षित नहीं है | इसमें भी उम्दा पासवर्ड और कड़े नियंत्रण की आवश्यकता है |
आपकी ऑनलाइन शॉपिंग एप जैसे कि फ्लिपकार्ट अमेजॉन इत्यादि के द्वारा भी सिम क्लोनिंग से आप पर अटैक हो सकता है | आपके खातों से किसी भी प्रकार की खरीदारी आपकी जानकारी के बगैर किया जा सकता है, और उसका भुगतान भी किया जा सकता है | इसलिए इन खातों पर ऑटो पेमेंट से बचें हमेशा मैन्युअल पेमेंट का ही इस्तेमाल करें |

इन सब बातों से यह साबित होता है की इस समय विश्व में साइबर युद्ध का खतरा मंडरा रहा है | सोचिये अगर किसी देश का अपराध नियंत्रण पोर्टल ही ढप कर दिया जाए तो ऐसे में उसे देश के अपराध नियंत्रण की स्थिति क्या होगी, यह समझा जा सकता है | इस स्थिति को देखते हुए ऐसा प्रतीत होता है कि हम पर इस समय साइबर हमले के बादल मंडरा रहे हैं | आने वाले खतरों से हमें सावधान रहने की जरूरत है | साइबर अपराध से बचने लिए आपकी जानकारी ही आपका बचाव है | सही जानकारी रखें और सही समय पर सही निर्णय यही आपको साइबर अपराधियों से बचा सकता है |

देश दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए,

हमारे यूट्यूब चैनल को सब्सक्राइब करें

Unique 24 Bharat – YouTube

 

Breaking News अपराध / हादसा देश दुनियां